Hindu World

Bhakti

माँ चन्द्रघण्टा की आरती

माँ चन्द्रघण्टा की आरती

देवी चंद्रघंटा का स्वरुप परम शांतिदायक और कल्याणकारी है । इनके मस्तक में घंटे के आकार का अर्धचंद्र है । इसी कारण इस देवी का नाम चंद्रघंटा पड़ा । इनके शरीर का रंग स्वर्ण के समान चमकीला है । इनका वाहन सिंह है । कंठ में...

माँ शैलपुत्री की आरती

पहले दिन देवी शैलपुत्री जी की पूजा की जाती है । पर्वतराज हिमालय के घर जन्म लेने के कारण इन्हें शैल पुत्री कहा गया है । इन भगवती का वाहन बैल है । इनके दाहिने हाथ में त्रिशूल और बाएं हाथ में कमल का पुष्प है । शैलपुत्री...

श्री शनि देव जी की आरती

भगवान शनिदेव को दंडाधिकारी माना जाता है। मनुष्य को उसके अच्छे और बुरे कर्मों का फल देने वाले शनि देव भगवान सूर्य के पुत्र माने जाते हैं। शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए लोग शनि मंदिरों में तेल चढ़ाते हैं। साथ ही शनिदेव की...